Home » Aaj Ka SuVichar » Suvichar-सुविचार

Suvichar-सुविचार

Suvichar-सुविचार

ऐसा व्यक्ति जो मानव के हृदय में साहस बोता है, वह सर्वश्रेष्ठ चिकित्सक होता है।
स्वयं कर्म, जब तक मुझे यह भरोसा होता है कि यह सही कर्म है, मुझे संतुष्टि देता है।
केवल दिल ही है जिससे कोई ठीक से देख सकता है; जो आवश्यक है वह आंखों के लिए अदृश्य है।
वह दिल जो प्यार से भरा हो, कभी जीर्ण नहीं होता।
सफलता वाकई किस्मत और मेहनत का संगम है।
अनुभव एक महान अध्यापक होता है।
अपनी वाणी को जितना हो सके निर्मल और पवित्र रखें, क्योंकि संभव है कि कल आपको उन्हें वापस लेना पड़ सकता है।
महत्त्व इस बात का नहीं है कि आप कितने अच्छे हैं। महत्त्व इस बात का है कि आप कितना अच्छा बनना चाहते हैं।
अपने उद्देश्य महान रखें, चाहें इसके लिए कांटों भरी डगर पर ही क्यों न चलना पड़े।
जब आप किसी चीज़ में यकीन करें, तो पूरी तरह करें, निस्संदेह और निर्विवाद रूप से।
हम बाहरी दुनिया में तब तक शांति नहीं पा सकते हैं जब तक कि हम अन्दर से शांत न हों।
प्रसन्न रहना ही हमारे जीवन का उद्देश्य है।
मुझे तो अतीत के इतिहास से कहीं अच्छे लगते हैं भविष्य के सपने।
एक मीठा बोल सर्दी के तीन महीनों को ऊष्मा दे सकता है।
आपके आसपास के लोगों में से कोई भी जब आपके मानदंडों पर खरा न उतरे तो मान लीजिए कि अपने मानदंडों को फिर से परख लेने का समय आ गया है।
आप किसी व्यक्ति को धोखा देते हैं तो आप अपने आपको भी धोखा देते हैं।
जब कोई काम नहीं कर रहे हो तो घडी की तरफ देखो और जब कोई काम कर रहे हो तो घडी की तरफ मत देखो
इंतजार मत करो , जितना तुम सोचते हो जिंदगी उससे कहीं ज्यादा तेजी से निकल रही है
जीवन हमें हमेशा दूसरा मौका जरूर देता है , जिसे “कल” कहते हैं
बीते समय के लिए मत रोइए , वो चला गया , और भविष्य की चिंता करना छोड़ो क्यूंकि वो अभी आया ही नहीं है , वर्तमान में जियो , इसे सुन्दर बनाओ
भाग्य भी साहसी लोगों का ही साथ देता है
जिंदगी में सबसे ज्यादा दुःख देता है – “बिता हुआ सुख”
याद है वो सवेरा जब हम मुस्कुरा कर उठते थे आज बिना मुस्कुराये ही शाम बीत जाती है
अगर आप किसी का अपमान कर रहे हैं तो वास्तव में आप अपना सम्मान खो रहे हैं
कुछ लोग ठोकर खाकर बिखर जाते हैं कुछ लोग ठोकर खाकर इतिहास बनाते हैं
जिंदगी खुशियां बटोरते बटोरते पता नहीं कब निकल गयी अब पता चला कि खुश तो वो थे जो खुशियां बाँट रहे थे
सैर कर दुनिया की गाफिल जिंदगानी फिर कहाँ जिंदगानी गर रही तो नौजवानी फिर कहाँ
जिंदगी में रिस्क लेने से कभी मत डरो या तो जीत मिलेगी और हार भी गए तो सीख मिलेगी
सारे सबक किताबों में नहीं मिलते यारो कुछ सबक जिंदगी भी सिखाती है
जीवन में मुसीबत आये तो कभी घबराना मत गिरकर उठने वाले को ही बाजीगर कहते हैंइस दुनिया में असंभव कुछ भी नहीं| हम वो सब कर सकते है, जो हम सोच सकते है और हम वो सब सोच सकते है, जो आज तक हमने नहीं सोचा|
सफल लोग रास्ते बदलते हैं इरादे हैं और असफल लोग अपने इरादे ही बदल लेते हैं
पूरे संसार में ईश्वर ने केवल इंसान को ही मुस्कुराने का गुण दिया है इस गुण को खोइए मत
इंसान हर घर में जन्म लेता है लेकिन इंसानियत कहीं कहीं ही जन्म लेती है
बुराई को देखना और सुनना ही बुराई की शुरुआत है
संस्कारों से बड़ी कोई वसीयत नहीं होती और ईमानदारी से बड़ी कोई विरासत नहीं होती
अपनी छवि का ध्यान रखें क्यूंकि इसकी आयु आपकी आयु से कहीं ज्यादा होती है
जो सिरफिरे होते हैं वही इतिहास लिखते हैं समझदार लोग तो सिर्फ उनके बारे में पढ़ते हैं
जिंदगी में तपिश कितनी भी हो कभी हताश मत होना क्योंकि धूप कितनी भी तेज हो समंदर कभी सूखा नहीं करते
यदि अंधकार से लड़ने का संकल्प कोई कर लेता है! तो एक अकेला जुगनू भी सब अंधकार हर लेता है!!
जिंदगी में कठिनाइयां आयें तो उदास ना होना क्यूंकि कठिन रोल अच्छे एक्टर को ही दिए जाते हैं!!
जिंदगी में आप कितनी बार हारे ये कोई मायने नहीं रखता क्यूंकि आप जीतने के लिए पैदा हुए हैं!!
बिना संघर्ष के कोई महान नहीं बनता पत्थर पर जबतक चोट ना पड़े तबतक पत्थर भी भगवान् नहीं बनता
हीरे को परखना है तो अँधेरे का इंतजार करो धूप में तो काँच के टुकड़े भी चमकने लगते हैं
तैरना सीखना है तो पानी में उतरना ही होगा किनारे बैठ कर कोई गोताखोर नहीं बनता
रास्ते कभी खत्म नहीं होते बस लोग हिम्मत हार जाते हैं!!
दुनिया में इंसान को हर चीज़ मिल जाती है सिर्फ अपनी गलती नहीं मिलती
हर एक कठिनाई जिससे आप मुंह मोड़ लेते हैं,एक भूत बन कर आपकी नीद में बाधा डालेगी.
सही दिशा में उठाया गया एक छोटा कदम भी बहुत बड़ा साबित होता है
अगर आप चाहते हैं कि कोई चीज अच्छे से हो तो उसे खुद कीजिये.
पहले वो आप पर ध्यान नहीं देंगे, फिर वो आप पर हँसेंगे, फिर वो आप से लड़ेंगे, और तब आप जीत जायेंगे.
बड़ा सोचो , जल्दी सोअचो , आगे सोचो . विचारों पर किसी का एकाधिकार नहीं है .
उस काम का चयन कीजिये जिसे आप पसंद करते हों, फिर आप पूरी ज़िन्दगी एक दिन भी काम नहीं करंगे.
मैं सुनता हूँ और भूल जाता हूँ , मैं देखता हूँ और याद रखता हूँ, मैं करता हूँ और समझ जाता हूँ.
हर एक चीज में खूबसूरती होती है, लेकिन हर कोई उसे नहीं देख पाता.
एक श्रेष्ठ व्यक्ति कथनी में कम ,करनी में ज्यादा होता है.
जब आप किसी काम की शुरुआत करें , तो असफलता से मत डरें और उस काम को ना छोड़ें. जो लोग इमानदारी से काम करते हैं वो सबसे प्रसन्न होते हैं.
जिसके पास धैर्य है वह जो चाहे वो पा सकता है
हाथों की लकीरों पर बराबर विश्वास नही करना चाहिए क्योंकि तक़दीर तो उनकी भी होती है जिनके हाथ नही होते
किसी की निंदा करने से यह पता चलता है कि आपका चरित्र क्या है, ना कि उस व्यक्ति का।”
असफल व्यक्तियों में से निन्यानवे प्रतिशत वे लोग होते हैं जिनकी आदत बहाने बनाने की होती है।
चिंताएं ले कर बिस्तर पर जाना अपनी पीठ पर गठरी ले कर सोने के समान है।
चिंताएं ले कर बिस्तर पर जाना अपनी पीठ पर गठरी ले कर सोने के समान है।
कभी कभार सुख के पीछे भागना छोड़ कर बस सुखी होना भी एक अच्छी बात है।
मित्र वे दुर्लभ लोग होते हैं जो हमारा हालचाल पूछते हैं और उत्तर सुनने को रुकते भी हैं।
मेरे विचार से यदि आप इन्द्रधनुष चाहते हैं, तो आपको वर्षा को सहना होगा।
लेखन कार्य अच्छा है, सोचना-विचार करना सर्वश्रेष्ठ है। चतुराई अच्छी है, लेकिन धैर्य सर्वोत्कृष्ट है
यदि आप सात बार गिरते हैं, तो आठ बार खड़ें हों!
भगवान यह अपेक्षा नहीं करते कि हम सफल हों। वे तो केवल इतना ही चाहते हैं कि हम प्रयास करें।
कठिनाईयों का अर्थ आगे बढ़ना है, न कि हतोत्साहित होना। मानवीय भावना का अर्थ द्वन्द्व से और अधिक मजबूत होना होता है।
जीवन का महानतम उपयोग इसे किन्हीं ऐसे अच्छे कार्यों पर व्यय करना है जो कि इसके जाने के बाद भी बने रहें।
जीवन का महानतम उपयोग इसे किन्हीं ऐसे अच्छे कार्यों पर व्यय करना है जो कि इसके जाने के बाद भी बने रहें।
ऐसा नहीं है कि मैं बहुत चतुर हूं; सच्चाई यह है कि मैं समस्याओं का सामना अधिक समय तक करता हूं।
यदि आप गलती नहीं कर सकते हैं तो आप कुछ नहीं कर सकते हैं।
जब आप कुछ गंवा बैठते हैं, तो उससे प्राप्त शिक्षा को न गंवाएं।
शिक्षा का मकसद कौशल और विशेषज्ञता के साथ अच्छे इंसान बनाना है…शिक्षकों द्वारा प्रबुद्ध मनुष्य बनाये जा सकते हैं।
राष्ट्र लोगों से मिलकर बनता है। और उनके प्रयास से, कोई राष्ट्र जो कुछ भी चाहता है उसे प्राप्त कर सकता है।
ढाई हज़ार सालों से भारत ने किसी पे आक्रमण नहीं किया है।
मैं हाई स्कूल में था जब पंडित जवाहरलाल नेहरु ने नयी दिल्ली में भारत का झंडा फहराया था।
अब ऊँगली की एक क्लिक पर उपलब्ध जानकारी मुझे आश्चर्यचकित कर देती है।
ईश्वर की संतान के रूप में, मैं मुझे होने वाली किसी भी चीज से बड़ा हूँ।
विज्ञान मानवता के लिए एक खूबसूरत तोहफा है; हमें इसे बिगाड़ना नहीं चाहिए।
किसी विद्यार्थी की सबसे ज़रूरी विशेषताओं में से एक है पश्न पूछना। विद्यार्थियों को प्रश्न पूछने दीजिये।
देखिये, भगवान् केवल उन्ही की मदद करता है जो कड़ी मेहनत करते हैं। ये सिद्धांत बिलकुल स्पष्ट है।
हमें एक अरब लोगों के देश की तरह सोचना और काम करना चाहिए, ना कि दस लाख आबादी वाले देश की तरह। सपने देखो, सपने देखो, सपने देखो!
मेरा बाल बढ़ता ही जाता है; आप इसे रोक नहीं सकते- ये बढ़ता रहता है, ये बेहिसाब बढ़ता है।
मेरे लिए, नकारात्मक अनुभव जैसी कोई चीज नहीं है।
जीवन एक कठिन खेल है। आप एक व्यक्ति होने के अपने जन्मसिद्ध अधिकार को बनाये रखकर इसे जीत सकते हैं।
भारत को एक विकसित राष्ट्र में बदलना होगा, नैतिक मूल्यों के साथ एक समृद्ध व् स्वस्थ देश।
शिक्षण एक बहुत ही महान पेशा है जो किसी व्यक्ति के चरित्र, क्षमता, और भविष्य को आकार देता है। अगर लोग मुझे एक अच्छे शिक्षक के रूप में याद रखते हैं, तो मेरे लिए ये सबसे बड़ा सम्मान होगा।
हमें हार नहीं माननी चाहिए और हमें समस्याओं को खुद को हराने नहीं देना चाहिए।
पक्षी अपने ही जीवन और प्रेरणा द्वारा संचालित होता है।
अगर तुम सूरज की तरह चमकना चाहते हो तो पहले सूरज की तरह जलो।
उत्कृष्टता एक सतत प्रक्रिया है कोई दुर्घटना नहीं।
तब तक लड़ना मत छोड़ो जब तक अपनी तय की हुई जगह पे ना पहुँच जाओ- यही, अद्वितीय तुम हो। ज़िन्दगी में एक लक्ष्य रखो, लगातार ज्ञान प्राप्त करो, कड़ी मेहनत करो, और महान जीवन को प्राप्त करने के लिए दृढ रहो।
इससे पहले कि सपने सच हों आपको सपने देखने होंगे।
अपने मिशन में कामयाब होने के लिए, आपको अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त निष्ठावान होना पड़ेगा।
इंसान को कठिनाइयों की आवश्यकता होती है, क्योंकि सफलता का आनंद उठाने कि लिए ये ज़रूरी हैं।
आकाश की तरफ देखिये। हम अकेले नहीं हैं। सारा ब्रह्माण्ड हमारे लिए अनुकूल है और जो सपने देखते हैं और मेहनत करते हैं उन्हें प्रतिफल देने की साजिश करता है।
आइये हम अपने आज का बलिदान कर दें ताकि हमारे बच्चों का कल बेहतर हो सके।
जब यह साफ हो कि लक्ष्यों को प्राप्त नहीं किया जा सकता है, तो लक्ष्यों में फेरबदल न करें, बल्कि अपनी प्रयासों में बदलाव करें।
अगर किसी देश को भ्रष्टाचार – मुक्त और सुन्दर-मन वाले लोगों का देश बनाना है तो, मेरा दृढ़तापूर्वक मानना है कि समाज के तीन प्रमुख सदस्य ये कर सकते हैं। पिता, माता और गुरु।
महान सपने देखने वालों के महान सपने हमेशा पूरे होते हैं।
मैं इस बात को स्वीकार करने के लिए तैयार था कि मैं कुछ चीजें नहीं बदल सकता।
भगवान, हमारे निर्माता ने हमारे मष्तिष्क और व्यक्तित्व में असीमित शक्तियां और क्षमताएं दी हैं। इश्वर की प्रार्थना हमें इन शक्तियों को विकसित करने में मदद करती है।
कृत्रिम सुख की बजाये ठोस उपलब्धियों के पीछे समर्पित रहिये।
शिखर तक पहुँचने के लिए ताकत चाहिए होती है, चाहे वो माउन्ट एवरेस्ट का शिखर हो या आपके पेशे का।
अपनों को हमेशा अपना होने का अहसास दिलाओ वरना वक़्त आपके अपनों को आपके बिना जिना सिखा देगा
जो मजिंलो को पाने की चाहत रखते. वो समंदरो पर भी पथरो के पुल बना देते है
संघर्ष इंसान को मजबूत बनाता है! फिर चाहे वो कितना भी कमजोर क्यो न हो
ज्ञान में पूंजी लगाने से सर्वाधिक ब्याज मिलता है
क्रोध कभी भी बिना कारण नहीं होता, लेकिन कदाचित ही यह कारण सार्थक होता है।
कभी कभी आपको लोगों से उम्मीद छोड़ देनी पड़ती है, इसलिए नहीं कि आप परवाह नहीं करते, बल्कि इसलिए कि वे परवाह नहीं करते।
जो सब आप बनना चाहते हैं वह अपने समय से पहले नहीं बन सकते।
वह दिल जो प्यार से भरा हो, कभी जीर्ण नहीं होता।
“सफलता वाकई किस्मत और मेहनत का संगम है।
अनुभव एक महान अध्यापक होता है।
अपनी वाणी को जितना हो सके निर्मल और पवित्र रखें, क्योंकि संभव है कि कल आपको उन्हें वापस लेना पड़ सकता है।
प्रकृति की गति अपनाएं – उसका रहस्य है धीरज।
प्रसन्न रहना ही हमारे जीवन का उद्देश्य है।
जब आप किसी चीज़ में यकीन करें, तो पूरी तरह करें, निस्संदेह और निर्विवाद रूप से।
अपने उद्देश्य महान रखें, चाहें इसके लिए कांटों भरी डगर पर ही क्यों न चलना पड़े।
आप वास्तविकता से अपनी आंखे मूंद सकते हैं, मगर स्मृतियों से नहीं।
अनुभव एक महान अध्यापक होता है।
अपनी वाणी को जितना हो सके निर्मल और पवित्र रखें, क्योंकि संभव है कि कल आपको उन्हें वापस लेना पड़ सकता है।
वह दिल जो प्यार से भरा हो, कभी जीर्ण नहीं होता।
सफलता वाकई किस्मत और मेहनत का संगम है।
आपके आसपास के लोगों में से कोई भी जब आपके मानदंडों पर खरा न उतरे तो मान लीजिए कि अपने मानदंडों को फिर से परख लेने का समय आ गया है।
आप किसी व्यक्ति को धोखा देते हैं तो आप अपने आपको भी धोखा देते हैं।
बहुधा वातावरण में परिवर्तन से कहीं अधिक व्यक्ति के भीतर ही बदलाव की ज़रूरत होती है
अपने शक्तियो पर भरोसा करने वाला कभी असफल नही होता।
मेहनत, हिम्मत और लगन से कल्पना साकार होती है।
कर्म करने मे ही अधिकार है, फल मे नही।
प्रचंड वायु मे भी पहाड विचलित नही होते।
संकल्प ही मनुष्य का बल है।
कार्य उद्यम से सिद्ध होते है, मनोरथो से नही।
विवेक बहादुरी का उत्तम अंश है।
सफलता अत्यधिक परिश्रम चाहती है।
भाग्य साहसी का साथ देता है।
कीर्ति वीरोचित कार्यो की सुगन्ध है।
एकाग्रता से ही विजय मिलती है।
ऊद्यम ही सफलता की कुंजी है।
प्रत्येक अच्छा कार्य पहले असम्भव नजर आता
है।

वही सबसे तेज चलता है, जो अकेला चलता है।
चिंतन, आदर्श और सपने कभी नष्ट नहीं होते।
सच्चा वीर वही, जो न्याय का पक्षधर हो।
बड़ी बात को कम में कहना ही चतुराई है।
सभी दुनियां बदलने की सोचते हैं, न कि स्वयं को।
देश की एकता के लिए हिन्दी अनिवार्य है – दयानंद सरस्वती ।
हिन्दी भाषा समग्र देश में प्रचलित है – केशवचंद्र सेन ।
हिन्दी ही हिन्दुस्तान की राष्ट्रभाषा हो सकती है – महात्मा गांधी ।
हिन्दी का प्रश्न स्वराज्य का प्रश्न है – भारतेन्दु ।
भाग्य का पन्ना स्वतः पलटता है।
संघर्ष जितना कठिन होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी।
सत्य को याद रखने की आवश्यकता नहीं।
व्यक्ति नहीं समय बलवान होता है।
हिन्दी में काम आसान, समझना आसान, समझाना आसान।
कल कभी नहीं आता।
बराबरी की मित्रता ही सुखदायी होतीहै।
मजहब को यह मौका न मिलना चाहिए कि वह हमारे साहित्यिक, सामाजिक, सभी क्षेत्रों में टाँग अड़ाए। – राहुल सांकृत्यायन।
समाज और राष्ट्र की भावनाओं को परिमार्जित करने वाला साहित्य ही सच्चा साहित्य है। – जनार्दनप्रसाद झा द्विज।
उर्दू जबान ब्रजभाषा से निकली है। – मुहम्मद हुसैन आजाद।
यह संदेह निर्मूल है कि हिंदी वाले उर्दू का नाश चाहते हैं। – राजेन्द्र प्रसाद।
हिंदी हिंद की, हिंदियों की भाषा है। – र. रा. दिवाकर।
भारतीय एकता के लक्ष्य का साधन हिंदी भाषा का प्रचार है। – टी. माधवराव।
जो साहित्य केवल स्वप्नलोक की ओर ले जाये, वास्तविक जीवन को उपकृत करने में असमर्थ हो, वह नितांत महत्वहीन है। – (डॉ.) काशीप्रसाद जायसवाल।
साहित्य की उन्नति के लिए सभाओं और पुस्तकालयों की अत्यंत आवश्यकता है। – महामहो. पं. सकलनारायण शर्मा।
यह कैसे संभव हो सकता है कि अंग्रेजी भाषा समस्त भारत की मातृभाषा के समान हो जाये? – चंद्रशेखर मिश्र।
अपनी सरलता के कारण हिंदी प्रवासी भाइयों की स्वत – राष्ट्रभाषा हो गई। – भवानीदयाल संन्यासी।
प्रत्येक नगर प्रत्येक मोहल्ले में और प्रत्येक गाँव में एक पुस्तकालय होने की आवश्यकता है। – (राजा) कीर्त्यानंद सिंह।

यदि पक्षपात की दृष्टि से न देखा जाये तो उर्दू भी हिंदी का ही एक रूप है। – शिवनंदन सहाय।
जब से हमने अपनी भाषा का समादर करना छोड़ा तभी से हमारा अपमान और अवनति होने लगी। – (राजा) राधिकारमण प्रसाद सिंह।
भारत की परंपरागत राष्ट्रभाषा हिंदी है। – नलिनविलोचन शर्मा।
मुस्लिम शासन में हिंदी फारसी के साथ-साथ चलती रही पर कंपनी सरकार ने एक ओर फारसी पर हाथ साफ किया तो दूसरी ओर हिंदी पर। – चंद्रबली पांडेय।
समस्त आर्यावर्त या ठेठ हिंदुस्तान की राष्ट्र तथा शिष्ट भाषा हिंदी या हिंदुस्तानी है। -सर जार्ज ग्रियर्सन।
इस विशाल प्रदेश के हर भाग में शिक्षित-अशिक्षित, नागरिक और ग्रामीण सभी हिंदी को समझते हैं। – राहुल सांकृत्यायन।
देश को एक सूत्र में बाँधे रखने के लिए एक भाषा की आवश्यकता है। – सेठ गोविंददास।
एखन जतोगुलि भाषा भारते प्रचलित आछे ताहार मध्ये भाषा सर्वत्रइ प्रचलित। – केशवचंद्र सेन।
अंग्रेजी सर पर ढोना डूब मरने के बराबर है। – सम्पूर्णानंद।
हिंदी को तुरंत शिक्षा का माध्यम बनाइये। – बेरिस कल्यएव।
विदेशी भाषा का किसी स्वतंत्र राष्ट्र के राजकाज और शिक्षा की भाषा होना सांस्कृतिक दासता है। – वाल्टर चेनिंग।
राष्ट्रीय एकता की कड़ी हिंदी ही जोड़ सकती है। – बालकृष्ण शर्मा नवीन।
हिंदी ही भारत की राष्ट्रभाषा हो सकती है। – वी. कृष्णस्वामी अय्यर।
दक्षिण की हिंदी विरोधी नीति वास्तव में दक्षिण की नहीं, बल्कि कुछ अंग्रेजी भक्तों की नीति है। – के.सी. सारंगमठ।
राष्ट्रभाषा हिंदी का किसी क्षेत्रीय भाषा से कोई संघर्ष नहीं है। – अनंत गोपाल शेवड़े।
अकबर से लेकर औरंगजेब तक मुगलों ने जिस देशभाषा का स्वागत किया वह ब्रजभाषा थी, न कि उर्दू। -रामचंद्र शुक्ल।
हिंदी का पौधा दक्षिणवालों ने त्याग से सींचा है। – शंकरराव कप्पीकेरी।
समस्त भारतीय भाषाओं के लिए यदि कोई एक लिपि आवश्यक हो तो वह देवनागरी ही हो सकती है। – (जस्टिस) कृष्णस्वामी अय्यर।
हिंदी का काम देश का काम है, समूचे राष्ट्रनिर्माण का प्रश्न है। – बाबूराम सक्सेना।
राष्ट्रभाषा के बिना आजादी बेकार है। – अवनींद्रकुमार विद्यालंकार।
उद्यम से कार्य सिद्ध होते हैं न कि मनोरथ से
आचरण के बिना ज्ञान केवल भार हैं
ढ़ूढ़ने तक समाधान मिलते रहते हैं
गलतियां ढ़ूंढ़ना आसान व उपाय कठिन हैं
विचारों की गति ही सौंदर्य है
विचार ही संसार पर शासन करते हैं
पुस्तक प्रेमी ही वास्तविक में धनवान व सुखी होता है
सत्य की हमेशा जय होती है
बुद्धिमान ही बलशाली होता है
गलतियां ही आपको परिपक्व बनाती हैं
अपमानपूर्वक अमृत पीने से बेहतर सम्मानपूर्वक विषपान है
विचार बंधन व ज्ञान मुक्ति देता है
सोच बदलने से व्यवहार भी बदलता है
कांटे कभी अच्छे नहीं होते
अनुभवों के बदलने से सोच बदलती है
शांति प्रगति के लिए आवश्यक है
इतिहास वास्तव में आत्मकथा है
करोड़ों मुद्रओं से भी आयु का एक क्षण नहीं पाया जा सकता
समय का आदर करने वाले व्यक्ति कामयाब होते हैं
अमीरों के संबंधियों की फेहरिस्त लंबी होती हैं
व्यक्ति के सौ गणों को एक दरिद्रता नष्ट कर देती हैं
आर्थिक तंगी बुराइयों की जड़ हैं
परदेश में धन ही सबसे बड़ा मित्र होता है
मनुष्य अर्थ का दास है
महिला के दोष जानने हों तो सहेली की प्रशंसा करें
विचारों की शक्ति अकूत है
मनःस्थिति बदलने पर परिस्थिति बदलती है
मनुष्य की वास्तविक पूंजी विचार है
मौन से अधिकतर कार्य स्वतः हो जाते हैं

मौन में शब्दों की अपेक्षा अधिक वाक्-शक्ति है[/su_quote]

कल्पनाओं के सहारे जीना सुखद है।
किसी छात्र की क्षमता नष्ट करनी हो तो उसे रटने में लगा दें।
परिवर्तन वैज्ञानिक सत्य है।
आत्मविश्वास वीरता का सार हैं।
अवसर कठिनाइयों के बीच ही रहती हैं।
शांतिप्रियों को लोकप्रियता से बचना चाहिए।
आशावादी हर जोखिम में अवसर देखता हैं।
निराशावादी को हर अवसर में खोट दिखता हैं।
व्याधि, शत्रु से भी अधिक हानिकारक हैं
गलती स्वीकारने में लज्जा नहीं होनी चाहिए
गलती का मतलब होता है कि आप कुछ सीख रहे है।
चापलूसी आसान, व प्रशंसा कठिन होता है
सफलता के लिए बेमन प्रयास ही असफलता है
साहस में ही लक्ष्मी रहती है
प्रशंसा की लालसा बड़ी कमजोरी है।
सत्-संगति स्वर्ग के समान है
ज्ञान स्वयं में वर्तमान है।
साहित्य समाज का दर्पण होता है
गलतियों पर अड़े रहना मूर्खता है
साहित्य, संगीत और कला के बिना व्यक्ति पशु है।
विज्ञान ज्ञानवान, तो दर्शन बुद्धिमान बनाता है
संकट में ही नायक का निर्माण होता है
पाप से घृणा करें, पापी से नहीं।
गरीब वह है जिसकी अभिलाषाएं बढ़ी हुई हैं।
दोष निकालना सुगम है, उसे ठीक करना कठिन। 
गलती करने से डरना सबसे बड़ी गलती है। 
एकता में ही शक्ति है।
ज्ञान स्वयं में वर्तमान है।
व्यक्ति जन्म से नहीं कर्म से महान होता है।
अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है। 
परिश्रम का फल मीठा होता है।
लोहा गरम भले ही हो जाए पर हथौड़ा तो ठंडा रह कर ही काम कर सकता है। – सरदार पटेल
लगातार पवित्र विचार करते रहे,  बुरे संस्कारो को दबाने के लिए एक मात्र समाधान यहीं हैं – स्वामी विवेकानन्द |
मनुष्य जितना ज्ञान में घुल गया हो, उतना ही वह कर्म के रंग में रंग जाता है – आचार्य विनोबा भावे |
द्वेष बुद्धि को हम द्वेष से नहीं मिटा सकते, प्रेम की शक्ति ही उसे मिटा सकती है – आचार्य विनोबा भावे |
नम्रता की ऊंचाई का कोई नाप नहीं होता – आचार्य विनोबा भावे |
त्याग पीने की दवा है, दान सिर पर लगाने की सौंठ। त्याग में अन्याय के प्रति चिढ़ है, दान में नाम का लिहाज़ है – आचार्य विनोबा भावे |
हमारा उद्देश्य हो संसार का भला करना न कि अपने नाम का ढोल पीटना – स्वामी विवेकानन्द |
हम वो हैं जो हमें हमारी सोचने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं, शब्द गौण हैं विचार रहते हैं वे दूर तक यात्रा करते हैं – स्वामी विवेकानन्द |
हज़ार योद्धाओं पर विजय पाना आसान है, लेकिन जो अपने ऊपर विजय पाता है वही सच्चा विजयी है – गौतम बुद्ध |
स्वयं में बहुत सी कमियों के बावजूद यदि मैं स्वयं से प्रेम कर सकता हूँ तो फिर दूसरों में थोड़ी बहुत कमियों की वजह से उनसे घृणा कैसे कर सकता हूँ – स्वामी विवेकानन्द |
स्वधर्म के प्रति प्रेम, परधर्म के प्रति आदर और अधर्म के प्रति उपेक्षा करनी चाहिए – आचार्य विनोबा भावे |
स्वतंत्र होने का साहस करो जहां तक तुम्हारे विचार जाते हैं वहां तक जाने का साहस करो, और उन्हें अपने जीवन में उतारने का साहस करो – स्वामी विवेकानन्द |
स्वतंत्र वही हो सकता है, जो अपना काम अपने आप कर लेता है – आचार्य विनोबा भावे |
स्वतंत्र वही हो सकता है जो अपना काम अपने आप कर लेता है – आचार्य विनोबा भावे |
सौभाग्य वीर से डरता है और कायर को डराता है – अज्ञात |
सेवा छोटी है या बड़ी, इसकी कीमत नहीं है। किस भावना से, किस दृष्टि से वह की जा रही है, उसकी कीमत है – आचार्य विनोबा भावे |
सुधारक चाहे कितना भी श्रेष्ठ पंक्ति का क्यों न हो, जब तक जनता उसे परख नहीं लेगी, उसकी बात नहीं सुनेगी – आचार्य विनोबा भावे |
साफ़ सुथरे सादे परिधान में ऐसा यौवन होता है जिसमें अधिक उम्र छिप जाती है – अज्ञात |
समय परिवर्तन का धन है। परंतु घड़ी उसे केवल परिवर्तन के रूप में दिखाती है, धन के रूप में नहीं – रवींद्रनाथ ठाकुर |
सबसे अधिक ज्ञानी वही है जो अपनी कमियों को समझकर उनका सुधार कर सकता हो – अज्ञात |
सत्याग्रह बलप्रयोग के विपरीत होता है। हिंसा के संपूर्ण त्याग में ही सत्याग्रह की कल्पना की गई है – महात्मा गांधी |
सच्चाई से जिसका मन भरा है, वह विद्वान न होने पर भी बहुत देश सेवा कर सकता है – पं. मोतीलाल नेहरू |
सच्चा बलवान तो वही होता है, जिसने अपने मन पर पूरी तरह से नियंत्रण कर लिया हो – अज्ञात ।
संभव की सीमा जानने का केवल एक ही तरीका है असंभव से भी आगें निकल जाना – स्वामी विवेकानन्द |
संतोष का वृक्ष कड़वा है लेकिन इस पर लगने वाला फल मीठा होता है – स्वामी शिवानंद |
वीरता से आगे बढ़ो। एक दिन में सफलता की कोशिश न करो। अपने आदर्श पर डटे रहो। स्वार्थ और ईर्ष्या से बचो।
विश्वास वह पक्षी है जो प्रभात के पूर्व अंधकार में ही प्रकाश का अनुभव करता है और गाने लगता है। – रवींद्रनाथ ठाकुर
विश्वविद्यालय महापुरुषों के निर्माण के कारख़ाने हैं और अध्यापक उन्हें बनाने वाले कारीगर हैं। – रवींद्र
विश्व एक व्यायामशाला है, जहां हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं ।- स्वामी विवेकानन्द
विचारकों को जो चीज़ आज स्पष्ट दीखती है दुनिया उस पर कल अमल करती है। – आचार्य विनोबा भावे
वाणी चाँदी है, मौन सोना है, वाणी पार्थिव है पर मौन दिव्य।- कहावत
वह नास्तिक है, जो अपने आप में विश्वास नहीं रखता। – स्वामी विवेकानन्द
लोहा गरम भले ही हो जाए पर हथौड़ा तो ठंडा रह कर ही काम कर सकता है। – सरदार पटेल
लगातार पवित्र विचार करते रहे, बुरे संस्कारो को दबाने के लिए एक मात्र समाधान यहीं हैं। – स्वामी विवेकानन्द
सच्चाई से जिसका मन भरा है, वह विद्वान न होने पर भी बहुत देश सेवा कर सकता है। – पं. मोतीलाल नेहरू
सच्चा बलवान तो वही होता है, जिसने अपने मन पर पूरी तरह से नियंत्रण कर लिया हो।
संभव की सीमा जानने का केवल एक ही तरीका है असंभव से भी आगें निकल जाना। – स्वामी विवेकानन्द
संतोष का वृक्ष कड़वा है लेकिन इस पर लगने वाला फल मीठा होता है। – स्वामी शिवानंद
वीरता से आगे बढ़ो। एक दिन में सफलता की कोशिश न करो। अपने आदर्श पर डटे रहो। स्वार्थ और ईर्ष्या से बचो। – स्वामी विवेकानन्द
विश्वास वह पक्षी है जो प्रभात के पूर्व अंधकार में ही प्रकाश का अनुभव करता है और गाने लगता है। – रवींद्रनाथ ठाकुर
विश्वविद्यालय महापुरुषों के निर्माण के कारख़ाने हैं और अध्यापक उन्हें बनाने वाले कारीगर हैं। – रवींद्र
विश्व एक व्यायामशाला है, जहां हम खुद को मजबूत बनाने के लिए आते हैं । – स्वामी विवेकानन्द
विचारकों को जो चीज़ आज स्पष्ट दीखती है दुनिया उस पर कल अमल करती है।   – आचार्य विनोबा भावे
वाणी चाँदी है, मौन सोना है, वाणी पार्थिव है पर मौन दिव्य। – कहावत
सत्याग्रह बलप्रयोग के विपरीत होता है। हिंसा के संपूर्ण त्याग में ही सत्याग्रह की कल्पना की गई है। – महात्मा गांधी
सबसे अधिक ज्ञानी वही है जो अपनी कमियों को समझकर उनका सुधार कर सकता हो।   – अज्ञात
समय परिवर्तन का धन है। परंतु घड़ी उसे केवल परिवर्तन के रूप में दिखाती है, धन के रूप में नहीं। – रवींद्रनाथ ठाकुर
साफ़ सुथरे सादे परिधान में ऐसा यौवन होता है जिसमें अधिक उम्र छिप जाती है। – अज्ञात
सुधारक चाहे कितना भी श्रेष्ठ पंक्ति का क्यों न हो, जब तक जनता उसे परख – नहीं लेगी, उसकी बात नहीं सुनेगी। आचार्य विनोबा भावे
सेवा छोटी है या बड़ी, इसकी कीमत नहीं है। किस भावना से, किस दृष्टि से वह की जा रही है, उसकी कीमत है। – आचार्य विनोबा भावे
सौभाग्य वीर से डरता है और कायरो डराता है। – अज्ञात
स्वतंत्र वही हो सकता है जो अपना काम अपने आप कर लेता है। – आचार्य विनोबा भावे
स्वयं में बहुत सी कमियों के बावजूद यदि मैं स्वयं से प्रेम कर सकता हूँ तो फिर दूसरों में थोड़ी बहुत कमियों की वजह से उनसे घृणा कैसे कर सकता हूँ। – स्वामी विवेकानन्द
हज़ार योद्धाओं पर विजय पाना आसान है, लेकिन जो अपने ऊपर विजय पाता है वही सच्चा विजयी है। – गौतम बुद्ध
हम वो हैं जो हमें हमारी सोचने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं, शब्द गौण हैं  विचार रहते हैं  वे दूर तक यात्रा करते हैं। – स्वामी विवेकानन्द
हमारा उद्देश्य हो संसार का भला करना न कि अपने नाम का ढोल पीटना। – स्वामी विवेकानन्द

 

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail 📩 करें. हमारी Id➡ [email protected]पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ Publish करेंगे. Thanks!